IPS का फुल फॉर्म क्या है? IPS Full Form in Hindi

Share this:

आज इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे की IPS का फुल फॉर्म क्या है? IPS Full Form in Hindi, साथ ही IPS से जुडी सारी जानकारी विस्तार पूर्वक प्रदान करेंगे ताकि आपको IPS Full Form In Hindi पता चल सके.

IPS क्या होता है?

IPS का पद देश के प्रतिष्ठित पदों में से एक है। UPSC परीक्षा में सफल होने वाले उम्मीद्वारों को उनकी Rank के According IPS का पद दिया जाता है।

एक IPS Officer का सबसे पहला पद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ASP) के रूप में होता है। IPS देश में कानून व्यवस्था को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।

एक IPS अधिकारी को अतरिक्त पुलिस अधीक्षक के रूप में तैनात किया जाता है और वह अपने जिले के सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों में से एक होता है। 

IPS पद की स्थापना 1948 में की गई थी। IPS, IAS के बाद आने वाला सिविल सर्विसेज में सबसे प्रतिष्ठित पदों में से एक है। IPS और IAS Officer एक साथ मिलकर काम करते है और देश में बेहतर प्रशासन के लिए तालमेल बिठाते है।

IPS का फुल फॉर्म क्या है? IPS Full Form in Hindi

IPS Full Form in Hindi

IPS की Full Form Indian Police Service है। 

IPS को हिंदी में भारतीय पुलिस सेवा कहा जाता है।  

British काल में IPS को Imperial Police कहा जाता था। 

IPS की Power और Responsibility 

Power

उसका अपने विभाग पर पूरा अधिकार होता है।

अपने Department के साथ ही उसे Police Department का Head और Police Department की सारी Power भी सौंपी जाती है।

यह भी पढ़े: GDA Nursing Course in Hindi

IPS Officer के लिए शीर्ष पद

IPS किसी भी राज्य में मिलने वाला सर्वोच्च पद है।

भारत के किसी भी राज्य का एक IPS अधिकारी पुलिस महानिदेशक बन सकता है। 

IPS Officer केंद्र में CBI, IB और RAW (रॉ) Director जैसे पदों पर नियुक्त हो सकते है। 

इसके अलावा, IPS राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के पद पर भी नियुक्त हो सकते है।

IPS Responsibility 

IPS Officer पर अपने जिले में कानून और व्यवस्था बनाए रखने की पूरी जिम्मेदारी होती है। 

एक IPS Officer का सबसे महत्वपूर्ण जिम्मेदारी देश की कानून व्यवस्था को बरकरार रखना होता है।

सार्वजनिक शांति और व्यवस्था को बनाए रखना।

एक IPS Officer अपराध को रोकते है, जांच करते है, भ्रष्टाचार के मामले में छानबीन करते है।

पदार्थों की तस्करी, आपदा प्रबंधन और जैव विविधता पर ध्यान बनाए रखते है और खुफिया जानकारियों को इकट्ठा करते है।

IPS लोगो को सुरक्षा प्रदान करते है और आतंकवाद तथा अन्य अपराधों से जूझते है।

एक IPS भारतीय खुफिया Agencies जैसे Research and Analysis Wing, Intelligence Bureau, केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो, अपराध जांच विभाग आदि में भी काम करते है।

यह भी पढ़ेआईटीआई कैसे करें? ITI का फुल फॉर्म क्या है?

यह भी पढ़े: डिस्टेंस लर्निंग से ग्रेजुएशन कैसे करें?

IPS Officer बनने के लिए क्या Procedure है?

IPS Officer बनने का Procedure:

IPS बनने के लिए UPSC Exam (सिविल सर्विस एग्‍जाम) Clear करना होता है।

  • सबसे पहले किसी भी मान्यता प्राप्त विद्यालय से 12th Class पास करे।
  • 12th के बाद किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से अपनी Graduation पूरी करे।
  • UPSC Exam के लिए Apply करे। 
  • अब Preliminary Exam Clear करे।
  • फिर Main Exam Clear करे। 
  • फिर Interview Clear करे।
  • यदि आप UPSC Exam Paas कर लेते है और आप Interview में Select हो जाते है तो फिर आपको IPS की Training के लिए भेज दिया जाता है।
  • अब IPS Officer की Training Complete करे।

इन सभी Stages को पार करके आप IPS Officer बन सकते है।

यह भी पढ़े: ADCA kya hota hai

IPS Officer की भर्ती कैसे होती है?

IPS Officer की भर्ती Union Public Service Commision द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षाओं के माध्यम से होती है। DAF (विस्तृत आवेदन पत्र) जमा कराते समय, उम्मीदवार को IAS या IPS पद के लिए अपनी इच्छा बतानी होती है क्योंकि IAS या IPS दोनों ही पदों के लिए Same Form Fill करना होता है।

उम्मीदवारों को उनके Rank और इच्छा के अनुसार IAS या IPS का पद दिया जाता है और पद के अनुसार ही उन्हें प्रशिक्षण दिया जाता है।

IPS के लिए Cadre Controlling Authority गृह मंत्रालय के पास होती है। एक IPS Officer को केंद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों द्वारा नियोजित किया जा सकता है।

यह भी पढ़ेमोबाइल से पैसे कैसे कमाए

ca बनने के लिए क्या पढ़े

IPS के लिए प्रशिक्षण

सबसे पहले, Selected IAS और IPS उम्मीदवार को Lal Bahadur Shastri National Academy of Administration द्वारा संचालित तीन महीने के लिए Combined प्रशिक्षण दिया जाता है। 

बाद में IPS Officers को विशेष प्रशिक्षण के लिए भेज दिया जाता है। 

उन्हें कानून प्रवर्तन और शारीरिक फिटनेस में कठोर प्रशिक्षण के लिए Hyderabad के Sardar Vallabhbhai Patel Police Training Academy में प्रशिक्षण के लिए भेज दिया जाता है। यह Training करीब एक साल तक चलती है।

ओ लेवल जॉब सैलरी

IPS Officer की Uniform 

देश पर मर मिटने वालों के लिए खाकी वर्दी एक सम्मान और सपना होता है। IPS अधिकारियों को Duty पर सामान्यत: अपनी यहीं खाकी वर्दी पहननी होती है और सिर पर अशोक स्तंभ के शेर वाली गहरी नीली टोपी होती है।

IPS Officer बनने के लिए Exam

IPS बनने के लिए सिविल सर्विसेज की परीक्षा UPSC यानी संघ लोक सेवा आयोग के द्वारा हर साल  Conduct की जाती है।

IPS बनने के लिए आपको सिविल सर्विसेज की तीन परीक्षाओं को पास करना होता है।

प्रारंभिक शिक्षा (Preliminary Exam) यानी Prelims

मुख्य परीक्षा (Main Exam)

साक्षात्कार (Interview) 

यह भी पढ़ेजियो फ़ोन से पैसे कैसे कमाए

scientist kaise bane

IPS अधिकारी के लिए पात्रता मानदंड

एक IPS अधिकारी के लिए पात्रता मानदंड इस प्रकार हैं:

राष्ट्रीयता (Nationality) 

IPS Officer के पद के दावेदार के लिए भारत का नागरिक होना जरूरी है। भारत के अलावा यदि आप नेपाल और भूटान के वासी है, तब भी आप UPSC Exam दे सकते है।

शैक्षणिक योग्यता (Qualification)

किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी Stream से Graduation की Degree होनी चाहिए। 

UPSC Exam Attempt करने के लिए 10th or 12th में %

Class 10th में आपके % ज्यादा हो या कम, उससे आपके IPS बनने के सपने पर कोई असर नहीं पड़ता।

अगर आपके 10th में 90% है तो बहुत अच्छा है, अगर 60% है तो कोई प्रॉब्लम नहीं, अगर 40% है तब भी कोई प्रॉब्लम नहीं है। बस आपको Class 10th Clear करनी होगी। 

12th में कम से कम 50% अंक जरूर हो ताकि एक अच्छे कॉलेज में दाखिला मिल सके और अच्छे विषय से Graduation की Degree मिले। यह Degree आपकी IPS परीक्षा में काफी मदद करेगी।

UPSC परीक्षा की नियम पुस्तिका के भौतिक मानकों को पूरा करना चाहिए।

आयु सीमा (Age Limit) 

सिविल सर्विसेज की परीक्षा में शामिल होने के लिए प्रतियोगियों की न्यूनतम आयु 21 वर्ष होनी चाहिए। अधिकतम आयु सीमा समाज के अलग-अलग वर्ग के अनुसार अलग-अलग होती है।

General category – 32 वर्ष

आरक्षित वर्ग (ST/ SC Category) – 37 वर्ष।

ST/ SC Category के लोगों को सिविल सर्विसेज परीक्षा में 5 साल की छूट मिलती है।

OBC Category – 35 वर्ष।

OBC Category के लोगों के लिए सिविल सर्विसेज परीक्षा में करीब 3 साल की छूट दी जाती है।

शारीरिक योग्‍यता (Physical Qualification) 

Height

Male Candidates के लिए Minimum Height 165 मीटर है।

Female Candidates के लिए Minimum Height 150 सेमी है।

SC/ OBC महिला उम्‍मीदवारो को थोड़ी छूट दी गई है, 

SC/ OBC Category की 145 सेंटीमीटर Height की महिलाएं भी Apply कर सकती है।

Chest

पुरुषों के लिए कम से कम 84 सेंटीमीटर और महिलाओं के लिए कम से कम 79 सेंटीमीटर।

Vision

स्‍वस्‍थ आंखों का विज़न 6/6 या 6/9 होना चाहिए। Weak Eyesight वाले Candidate इस पद के लिए Apply नहीं कर सकते।

यह भी पढ़ेBlogging से पैसे कैसे कमायें?

IPS Officer के लिए UPSC के प्रयासों की संख्या

IPS यानी UPSC के द्वारा ली गई सिविल सर्विस परीक्षा में General Category के प्रतियोगियों के लिए परीक्षा देने की प्रयासों की संख्या 6 बार है यानी सामान्य वर्ग के लोग 32 वर्ष तक परीक्षा दे सकते है।

OBC Category के लिए 35 साल रखी गई है।  OBC विद्यार्थी 35 साल तक करीब 9 बार सिविल सर्विसेज की परीक्षा दे सकते हैं।

आरक्षित वर्ग यानी कि ST/SC वाले विद्यार्थियों के लिए प्रयासों के सांख्य सीमा नहीं है। वे लोग 37 साल होने तक जितनी मर्जी उतनी बार सिविल सर्विसेज की परीक्षा दे सकते है।

Special Category में शामिल Students यानी Handicapped Category के जनरल विद्यार्थियों के लिए प्रयासों की संख्या 9 है। यानि ऐसे विद्यार्थी 9 बार  सिविल सर्विसेज की प्रवेश परीक्षा दे सकते है।

OBC और ST/S वर्ग के शारीरिक विकलांग विद्यार्थियों की प्रयासों की संख्या की कोई सीमा ही नहीं है। ऐसे वर्ग के लोग किसी भी आयु सीमा तक सिविल सर्विस की प्रवेश परीक्षा दे सकते है।

IPS परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

IPS बनने के लिए UPSC Exam Clear करना होता है और UPSC Exam की तैयारी के लिए आपको निम्नलिखित तैयारी करनी चाहिए।

UPSC Exam Clear करने के लिए आपको प्रतिदिन कड़ी परिश्रम और लगन के साथ-साथ लगभग 7 से 8 घंटे अध्ययन करना अति आवश्यक है।

UPSC परीक्षा की तैयारी करने के लिए आपको सबसे पहले N.C E.R T की Class 6 से 12 तक की History, Civics,Geography और Economics के Basic Chapters का अध्ययन करना अति आवश्यक है। क्योंकि यदि आपका Base Strong  होगा तभी आप आगे की Studies में Interest ले पाएंगे।

UPSC Exam एग्जाम के लिए आपको Current Affairs की पूरी Knowledge होनी चाहिए, जिसके लिए आपको Daily News Paper, News Channel, योजना पत्रिकाएं आदि पढ़नी चाहिए।

सिविल सर्विस परीक्षा में पास होने के लिए आपको अपने Notes स्वयं बनाने होंगे, किसी दूसरे के Notes Copy नहीं करने चाहिए। 

यह भी पढ़ेBhim App से पैसे कैसे कमाए?

एक जिले में कितने IPS Officer होते है?

एक क्षेत्र में IAS Officer केवल एक होता है जबकि एक क्षेत्र में IPS Officers की संख्या आवश्यकता के अनुसार होती है। 

एक IPS Officer की Salary कितनी होती है?

किसी भी IPS Officer की Basic Salary लगभग 56,100 रुपए (TA, DA और HRA अतिरिक्त) से शुरू होता है और Rank के साथ ये बढ़ती जाती है। एक DGP के लिए 2,25,000 रुपये तक पहुंच सकता है। IPS Officers को कई अन्य सुविधाएं भी मिलती है। हर IPS अधिकारी को उनके पद के अनुसार रहने के लिए एक घर और एक सरकारी वाहन भी दिया जाता है।

IPS के Promotion के साथ बढ़ते पद कौन-कौन से होते है?

  • भारतीय पुलिस सेवा कैडर
  • पुलिस अधीक्षक (SP)
  • वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP)
  • उप महानिरीक्षक (DIG)
  • इंस्पेक्टर जनरल (IG)
  • अतिरिक्त महानिदेशक (ADG)
  • पुलिस महानिदेशक (DG)

यह भी पढ़ेघर बैठे ऑनलाइन पैसे कमाने के आसान तरीके

IPS Officer के Promotion के बाद बदलते पद: 

ASP -SP -SSP -DIG -IG- ADG- DGP

एक IPS Officer, Superintendent Police (SP), Senior Superintendent Police (SSP) और Deputy Inspector Police (DIG) के प्रति जवाब देह होते है।

IPS का पद एक बहुत ही प्रतिष्ठित पद है, जिसके लिए बहुत मेहनत की ज़रूरत है और मेहनत का कोई Shortcut नहीं होता। IPS Officers देश की कानून और सुरक्षा व्यवस्था के रखवाले होते है।

FAQs

IPS Government Job है या Private Job?

IPS एक Government Job है।

IPS का पद बड़ा होता है या IAS का?

IPS पद IAS के बाद आता है, IAS की Power IPS से ज्यादा होती है।

आज आपने क्या सिखा

आज हमने इस आर्टिकल में IPS का फुल फॉर्म क्या है? IPS Full Form in Hindi विस्तार से discuss किया है ताकि आपको IPS meaning in hindi search करने की ज़रूरत न पड़े. अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया है तो कृपया हमें कमेंट्स के माध्यम से ज़रूर बताये.

Share this:

Leave a Comment